Uric Acid Kya Hota Hai? यूरिक एसिड के लक्षण | यूरिक एसिड की रामबाण दवा

Uric Acid Kya Hota Hai: आज के समय में अधिकतर पुरुष या महिला यूरिक एसिड की समस्या का सामना कर रहे है। हालाँकि यह कोई गंभीर परेशानी नहीं है लेकिन अगर समय से इस परेशानी का इलाज ना किया जाएं तो इससे काफी घातक परेशानियां उत्पन्न हो सकती है। यूरिक एसिड का नाम तो लगभग सभी ने कभी ना कभी जरूर सुना होगा, लेकिन आज भी बहुत सारे पुरुष और महिला ऐसे है जिन्हे यूरिक एसिड के बारे में अधिक जानकारी नहीं होती है। जिन लोगो को यूरिक एसिड के बारे में जानकारी नहीं होती है वो अक्सर इंटरनेट पर यूरिक एसिड क्या है? यूरिक एसिड बढ़ने के कारण क्या है? यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण क्या है? और यूरिक एसिड में किन चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए? इत्यादि। अगर आपको यूरिक एसिड के बारे एम् जानकारी नहीं है या यूरिक एसिड की समस्या से पीड़ित है तो हमारा यह पेज आपके लिए लाभदायक साबित होने वाला है क्योंकि आज हम अपने इस लेख में यूरिक एसिड के बारे में जानकारी देने के साथ साथ यूरिक एसिड को कम करने के घरेलू उपायों के बारे में भी जानकारी देने वाले है, चलिए सबसे पहले हम आपको यूरिक एसिड क्या है (uric acid kya hota hai) इसके बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है।

Table of Contents

यूरिक एसिड क्या है? / Uric Acid Kya Hota Hai?

जब किसी भी इंसान के शरीर में मौजूद किडनी किसी भी कारण से अपना काम सही तरीके से नहीं कर पाती है तो ऐसे में शरीर में यूरिक एसिड अधिक मात्रा में बनने लगता है। किडनी का मुख्य काम होता है शरीर में से हानिकारक पदार्थो को पेशाब के माध्यम से शरीर से बाहर निकाल देना। जब किडनी की हानिकारक पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने की क्षमता कम हो जाती है तो शरीर में यूरिक एसिड जमा अधिक मात्रा में जमा होने लगता है, फिर यह बढ़ा हुआ यूरिक एसिड हड्डियों के बीच जमा हो जाता है, जिसकी वजह से इंसान को उठने बैठने में परेशानी, जोड़ो में तेज दर्द या उंगलियो में सूजन की परेशानी इत्यादि समस्या का सामना करना पड़ता है। आज एक समय में बढ़े हुए यूरिक एसिड को कम करें के लिए काफी सारी अंग्रेजी दवा मौजूद है लेकिन काफी सारे लोग यूरिक एसिड को कम करने के घरेलू उपाय अपनाना पसंद करते है।

शरीर में यूरिक एसिड का सामान्य स्तर कितना होता है? / Uric Acid Normal Range

यह तो हम सभी जानते है की हमारे शरीर में बहुत सारे रासयनिक तत्व मौजूद होते है, यूरिक एसिड भी उनमे से एक होता है। लेकिन जब यूरिक एसिड अधिक मात्रा में बनने लगता है तो इंसानो को काफी सारी परेशानियो का सामना करना पड़ता है। अधिकतर इंसानो को यह नहीं पता होता है की की यूरिक एसिड का सामान्य स्तर कितना होता है? चलिए अब हम आपको यूरिक एसिड के सामान्य या नोर्मेट स्तर के बारे में बताते है दरसल अगर किसी भी महिला के शरीर में 2.6 से लेकर 6.0 mg/dl और पुरुषों में 3.4 से लेकर 7.0 mg/dl तक की मात्रा को नार्मल माना जाता है। जब किसी भी इंसान के शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा इससे ज्यादा हो जाती है तो इसे बढ़ा हुआ यूरिक एसिड माना जाता है। यूरिक एसिड की मात्रा कितनी बढ़ी हुई है इसकी जानकारी आपको यूरिक एसिड का टेस्ट करवा कर पता चलती है। चलिए अब हम आपको यूरिक एसिड बढ़ने के कारणों के बारे में जानकारी उपलब्ध करवा रहे है।

READ ALSO  Jaiv Vividhata Kya Hai - जैव विविधता का महत्व और यह आपके लिए क्यों मायने रखता है?

यूरिक एसिड बढ़ने के कारण

आमतौर पर यह माना जाता है की शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने का मुख्य कारण गलत खान पीन होता है, हालाँकि यह बात पूर्ण रूप से सही नहीं है खाने पीने के अलावा भी बहुत सारे ऐसे कारण भी होते है जिनकी वजह से शरीर में यूरिक एसिड का स्तर बड़ जाता है –

1 – जब किसी भी महिला या पुरुष किडनी या गुर्दे की परेशानी का सामना करता है, तो इस स्थिति में किडनी और गुर्दे किसी भी प्रकार की कमी या खराबी आने की वजह से फिल्ट्रेशन करने की क्षमता कमजोर पड़ जाती है, जब किडनी और गुर्दे की फिल्ट्रेशन क्षमता कम हो जाती है तो ऐसे में यूरिक एसिड का निर्माण अधिक मात्रा में होने लगता है।

2 – कुछ आहार ऐसे होते है जिनमे प्यूरिन अधिक मात्रा में मौजूद होता है, ऐसे आहार अधिक मात्रा में सेवन करने से शरीर में प्यूरिन की मात्रा अधिक होने की वजह से शरीर में यूरिक एसिड ज्यादा बनने लगता है।

3 – ऐसे इंसान जो शराब बहुत ज्यादा पीते है तो अधिक शराब पीने की वजह से शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने लगता है।

4 – कुछ मामलो में आयरन युक्त पदार्थो का सेवन अधिक करने की वजह से शरीर में आयरन की मात्रा अधिक हो जाती है, जिसकी वजह से भी यूरिक एसिड का स्तर बढ़ जाता है।

5 – हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित इंसानो के शरीर में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने की संभावना काफी ज्यादा होती है।

6 – जिन महिला या पुरुष में थायराइड की समस्या होती है की मात्रा जिन व्यक्तियों में ज्यादा या कम होती है उनका यूरिक एसिड बढ़ जाता है।

7 – यूरिक एसिड बढ़ने का कारण मोटापा भी होता है, मोटे इंसानो में यूरिक एसिड की समस्या आम लोगो के मुकाबले ज्यादा देखने को मिलती है।

यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण / Uric Acid Symptoms in Hindi

ऊपर आपने यूरिक एसिड बढ़ने के कारणों के बारे में जाना, अब हम यूरिक एसिड के लक्षणों के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है, अगर आपको यूरिक एसिड के लक्षणों के बारे में जानकारी होती है तो आपको यूरिक एसिड की समस्या का इलाज करने में आसानी होती है, यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण निम्न प्रकार है।

1 – यूरिक एसिड के लक्षण पैरो के जोड़ो में दर्द भी होता है, खासकर पैर की एडियों में दर्द महसूस हो रहा है तो एक बार चेकअप जरूर करवा लें, इस दर्द का कारण यूरिक एसिड भी हो सकता है।

2 – किसी भी महिला या पुरुष के शरीर के जोड़ों में तेज या कम दर्द की शिकायत होने का कारण यूरिक एसिड का बढ़ना भी हो सकता है।

3 – जब किसी भी महिला या पुरुष के शरीर यूरिक एसिड का स्तर बड़ जाता है तो ऐसे इंसानो को उठने बैठने में परेशानी होती है।

4 – यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने का लक्षण हाथ और पैरो की उंगलियो में सूजन की समस्या भी होती है।

5 – यूरिक एसिड का स्तर बढ़ने पर पीड़ित के शरीर में शुगर का लेवल भी बढ़ सकता है।

6 – यूरिक एसिड का लक्षण नींद ना आना भी होता है, हालाँकि नींद ना आने के कारण अन्य भी हो सकते है।

7 – कुछ मामलो में देखा गया है की शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने पर पीड़ित को बुखार आ जाता है या बहुत ज्यादा प्यास लगने लगती है।

8 – यूरिक एसिड का लक्षण शरीर में कंपन्न भी होता है।

9 – यूरिक एसिड बढ़ने का लक्षण जोड़ों में लालिमा या सूजन आना भी होता है।

यूरिक एसिड को नियंत्रित करने के घरेलू उपाय (Home Remedies for High Uric Acid in Hindi)

आम तौर पर यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए अधिकतर इंसान सबसे पहले घरेलू नुस्खों अपनाना पसंद करते है, चलिए अब हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्खों के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है, जिन्हे अपनाकर आप आसानी से यूरिक एसिड के लेवल को कंट्रोल कर सकते हैं।

READ ALSO  Uniform Civil Code Kya Hai? यूनिफॉर्म सिविल कोड इन हिंदी

1 – यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में सहायक है नींबू

गर्मियों के मौसम में नींबू पानी सभी को बेहद पसंद होता है, लेकिन कया आप जानते है की नींबू यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में सहायक होता है। नींबू में मौजूद औषधीय गुण और जरुरी पोषक तत्व यूरिक एसिड की समस्या को समाप्त करने में मददगार होते है, नींबू में मौजूद विटामिन सी यूरिक एसिड का स्तर कंट्रोल करता है। सबसे पहले सुबह उठकर एक गिलास गुनगुना पानी लेकर उसमे आधा नंबू निचोड़ कर अच्छी तरह से मिलाकर पी लें, नियमित रूप से इस उपाए को अपनाने से बहुत यूरिक एसिड की समस्या समाप्त हो जाती है।

2 – यूरिक एसिड को कंट्रोल करने की रामबाण दवा है बेकिंग सोडा

आज के समय में अधिकतर पुरुष और महिला यूरिक एसिड की समस्या से पीड़ित है, अगर आप भी यूरिक एसिड की समस्या से पीड़ित है तो आपके लिए बेकिंग सोडा काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। बेकिंग सोडा में मौजूद औषधीय गुण और जरुरी पोषक तत्व यूरिक की समस्या को कम करने में सहायक होते है, यूरिक एसिड की समस्या से छुटकारा पाने के लिए  सबसे पहले एक गिलास पानी लेकर उसमे आधा चम्मच बेकिंग सोडा डालकर अच्छी तरह से मिलाकर पीने से जल्द आराम मिलता है। रोजाना इस उपाय को अपनाने से कुछ दिनों में ही यूरिक एसिड की समस्या से आराम मिल जाता है। 

3 – यूरिक एसिड को नियंत्रित करने की रामबाण दवा एप्पल साइडर विनेगर

रोजाना एक सेब खाओ बिमारी दूर भगाओ यह तो आप सभी ने सुना होगा लेकिन कया आप जाने है सेब ही नहीं सेब का सरकार भी बहुत लाभकारी होता है। सेब का सिरका कई सारी बीमारियो को दूर भगाने में सहायक होता है, अगर आप यूरिक एसिड की समस्या से पीड़ित है तो सेब का सिरका आपकी इस परेशानी को दूर करने के लिए बहुत ज्यादा लाभकारी साबित हो सकता है। दरसल सेब के सिरके में मौजूद औषधीय गुण और जरुरी पोषक तत्व यूरिक एसिड की समस्या को समाप्त करने में सहायक होता है। नियमित रूप से एक गिलास पानी में दो चम्मच सेब का सिरका डालकर अच्छी तरह से मिलाकर पीने से जल्द आराम मिलता है। लगभग दो से तीन सप्ताह तक सेब का सिरका डालकर पानी पीने से शरीर में यूरिक एसिड का स्तर कम होने लगता है।

4 – यूरिक एसिड को कंट्रोल करने की रामबाण दवा अश्वगंधा

अश्वगंधा के बारे में सभी अच्छी तरह से जानते ही है, लेकिन काफी कम इंसानो को यह पता होता है की अश्वगंधा यूरिक एसिड की समस्या से भी छुटकारा दिलाने में सहायक होता है। अश्वगंधा में मौजूद औषधीय गुण और जरुरी पोषक तत्व यूरिक एसिड की समस्या से आराम मिलता है। सबसे पहले एक गिलास गुनगुना दूध लेकर उसमे एक चम्मच अश्वगन्धा पाउडर और एक चम्मच शहद डालकर अच्छी तरह से मिलाकर पीने से जल्द यूरिक एसिड की समस्या में राहत मिलती है। लेकिन एक बात का ख्याल रखें की गर्मियों में अश्वगंधा की मात्रा कम लें क्योंकि अश्वगंधा की तासीर गर्म होती है, गर्मियों के मौसम में अधिक मात्रा में सेवन करने से नुक्सान हो सकता है, इसीलिए गर्मियों के मौसम में अश्वगंधा कम मात्रा में लेना उचित होता है।

5 – यूरिक एसिड लेवल को कम करने का घरेलू उपाय है कच्चा पपीता

यह तो हम अभी जानते है की पका पपीता पेट के लिए बहुत ज्यादा लाभकारी होता है लेकिन कया आप जानते है की कच्चा पपीता यूरिक एसिड के स्टार को कम करने में मददगार साबित होता है। कच्चे पपीते में मौजूद औषधीय गुण और जरुरी पोषक तत्व यूरिक एसिड की समस्या से राहत दिलाने में सहायक होते है, सबसे पहले एक कच्चा पपीता लेकर उसे अच्छी तरह से धोकर बीजो को निकालकर छोटे छोटे टुकड़ो में काट लें।

READ ALSO  Holi Kyu Manaya Jata Hai? होली मनाने के पीछे की पौराणिक कथा

फिर लगभग दो लीटर पानी लेकर उसे गर्म होने के लिए रख दें, फिर उस पानी में कच्चे पपीते के कटे हुए टुकड़ें डालकर पानी को अच्छी तरह से पकने दें, फिर 5 से 6 मिनट तक पानी को उबलने दें। फिर गैस को बंद कर दें और जब पानी ठंडा हो जाएं तो इस पानी को छानकर किसी बर्तन में रख लें, फिर इस पानी को दिन में दो से तीन बार पी लें। इस पानी को पीने से कुछ दिनों में ही यूरिक एसिड की समस्या में आराम प्राप्त होता है।

यूरिक एसिड में क्या खाना चाहिए

यूरिक एसिड की परेशानी से पीड़ित इंसान को अपने खाने पीने का खास ख्याल रखने की जरुरत होती है। चलिए अब हम आपको बताते है की यूरिक एसिड की परेशानी से पीड़ित इंसान को क्या खाना चाहिए –

1 – अगर आप यूरिक एसिड की समस्या से पीड़ित है तो आपको सलाद का सेवन लाभकारी होता है, सबसे पहले मौसमी सलाद काट लें फिर सलाद में आधा नींबू निचोड़ कर सेवन करने से यूरिक एसिड का स्तर कम होता है।

2 – नींबू पानी का सेवन यूरिक एसिड का स्तर कम करने में सहायक होता है, दिन में एक बार एक गिलास पानी में एक नींबू निचोड़ कर अच्छी तरह से मिलाकर पीने से लाभ मिलता है।

3 – बेकिंग सोडा भी यूरिक एसिड का स्तर कम करने में सहायक होता है, एक गिलास पानी में एक चम्मच बेकिंग सोडा डालकर अच्छी तरह से मिलकर पी लें, दिन में दो से तीन बार बेकिंग सोडा मिलाकर पानी पीने से यूरिक एसिड की समस्या से आराम मिलता है।

4 – नियमित रूप से सुबह सुबह 2 से 3 अखरोट खाने से भी यूरिक एसिड की समस्या से आराम मिलता है।

5 – यूरिक एसिड की समस्या से आराम दिलाने में सहायक है अजवाइन, अजवाइन का सेवन आप सब्जी में डालकर या अजवाइन का पानी के रूप में भी कर सकते है।

6 – अगर आप यूरिक एसिड की समस्या से पीड़ित है तो खट्टी चीजों का सेवन या विटामिन सी युक्त चीजों का सेवन लाभकारी होता है।

7 – हर एक इंसान को दो से तीन लीटर पानी जरूर पीना चाहिए, पानी उचित मात्रा में पीने से बहुत सारी समस्याएं दूर हो जाती है, अधिक मात्रा में पानी पीने से शरीर में मौजूद गंदगी पेशाब के रास्ते शरीर से बाहर निकल जाती है।

8 – अगर आपके शरीर में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ गया है तो ऐसे में आप गाजर या खीरा या ककड़ी इत्यादि का सेवन करना लाभकारी होता है, इनका सेवन करने से जल्द यूरिक एसिड का स्तर कम होने लगता है।

9 – यूरिक एसिड की समस्या से पीड़ित इंसान को चेरी, स्ट्राबेरी और ब्लूबेरी का सेवन करने से लाभदायक होता है।

यूरिक एसिड में परहेज यूरिक एसिड मे क्या नहीं खाना चाहिए

यूरिक एसिड की समस्या से पीड़ित इंसान को कुछ चीजें बिलकुल नहीं खानी चाहिए, अगर आप कुछ चीजों का परहेज नहीं करते है तो ऐसे यूरिक एसिड की समस्या कम होने के बजाए बड़ सकती है।

1 – यूरिक एसिड की समस्या से ग्रसित इंसान को ऐसे खाद्य पदार्थो का सेवन करने से बचना चाहिए जिनमे प्यूरिन की मात्रा अधिक होती है। आपको खाद्य पदार्थ जैसे शतावरी, मशरूम, मटर और गोभी का सेवन करने से बचना चाहिए।

2 – यूरिक एसिड की समस्या से पीड़ित इंसान को एल्कोहल का सेवन बिलकुल नहीं करना चाहिए, अगर आप एल्कोहल का सेवन करते है तो आपकी समस्या कम होने की बजाए काफी ज्यादा बड़ सकती है।

3 – यूरिक एसिड की समस्या से पीड़ित इंसान को ऐसी मछलियो का सेवन करने से बचना चाहिए जिनमे एसिड की मात्रा अधिक होती है।

4 – यूरिक एसिड के स्तर को कम करने के लिए आपको तली हुई चीजें और भूनी हुई चीजें का सेवन नहीं करना चाहिए। तेल, घी और मक्खन जैसे चिकनाई पदार्थ का सेवन करने से परहेज करना चाहिए।

5 – अगर आप बढे हुए यूरिक एसिड से परेशान है तो आपको बाहर का खाना और जंक फ़ूड का सेवन बिलकुल नहीं करना चाहिए।

6 – यूरिक एसिड की समस्या से पीड़ित इंसान को राजमा, छोले, अरबी, चावल, मैदा और रेड मीट इत्यादि पदार्थो का सेवन करने से बचना चाहिए।

निष्कर्ष –

ऊपर आपने बढे हुए यूरिक एसिड के बारी में महत्वपूर्ण जानकारी जैसे यूरिक एसिड क्या है? (uric acid kya hota hai) यूरिक बढ़ने के कारण और यूरिक एसिड के लक्षणों के बारे में जानकारी प्राप्त की। लेकिन अंत में हम आपको सलाह देंगे की अगर आपको यूरिक एसिड के लक्षण दिखाई दें तो लापरवाही बिलकुल ना करें तुरंत किसी चिकित्सक से परामर्श और इलाज कराएं।

Leave a Comment